गौरी लंकेश हत्याकाण्ड: अपराधियों को कब गिरफ्तार किया जाएगा?

मंगलवार की शाम हुई इस जघन्य हत्या को 2 दिन होने वाले हैं, लेकिन कर्नाटक पुलिस हत्यारों को गिरफ्तार करना तो दूर उनके बारे में अब तक कोई सुराग तक तलाश नहीं कर पाई है।

Friday 8 September 2017, 8:36 pm
0 241 0
गौरी लंकेश हत्याकाण्ड: अपराधियों को कब गिरफ्तार किया जाएगा?

अभी भी यह बड़ा सवाल बना हुआ है और सबके सामने है कि कब पकडे जायेंगे गौरी लंकेश के हत्यारे? कर्नाटक के बेंगलुरु मैं पत्रकार गौरी लंकेश के हत्यारे अब तक आजाद घूम रहे हैं। मंगलवार की शाम हुई इस जघन्य हत्या को 2 दिन होने वाले हैं, लेकिन कर्नाटक पुलिस हत्यारों को गिरफ्तार करना तो दूर उनके बारे में अब तक कोई सुराग तक तलाश नहीं कर पाई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कर्नाटक सरकार से हत्यारों को गिरफ्तार करने के उठाए जा रहे कदमों के बारे में पूरी रिपोर्ट मांगी है।

कर्नाटक के बेंगलुरु में वरिष्ठ महिला पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या मंगलवार को हुई, मगर कर्नाटक पुलिस के हाथ अब तक खाली है। कर्नाटक सरकार ने हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए एसआईटी का गठन तो किया है, लेकिन जांच में अब तक कोई बड़ा सुराग हाथ लगने की खबर नहीं है। सवाल यह है कि कब पकड़े जाएंगे गौरी लंकेश के हत्यारे।

गौरी ने अपने घर के बाहर 15 दिन पहले ही सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे, पुलिस अब उन्हीं में सुराग तलाश रही है, अब ऐसे सवाल भी उठ रहे हैं कि क्या गोरी को ऐसे हमले की पहले से आशंका थी, जिसके चलते उन्होंने 15 दिन पहले ही सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे।

गौरी लंकेश की हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस के पास दो अहम चीज हैं, जो बहुत कारगर साबित हो सकती है।

1. उनके घर में लगे सीसीटीवी कैमरा।
2 राजा राजेश्वरी नगर जहां उनका घर है, वहां के आस पास मोजूद मोबाइल टावर है उनके जो रिकॉर्ड है मोबाइल नंबर जो उस समय एक्टिव होंगे।

Watch Video:-

उधर गौरी लंकेश के भाई ने हत्या की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया भी CBI से जांच की संभावना को इनकार नहीं कर रहे हैं। कांग्रेस की तरफ से जारी एक बयान में भी कहा गया है कि राहुल और सोनिया गांधी ने मुख्यमंत्री सिद्धारमैया से कहा है कि वह गौरी लंकेश के हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करवाएं।

इस बीच केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के निर्देश पर उनके मंत्रालय ने भी कर्नाटक सरकार से वारदात की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है, साथ ही वारदात में शामिल लोगों को पकड़ने के लिए की जा रही कार्रवाई का ब्यौरा देने को भी कहा है।

कांग्रेस लगातार इस बात को लेकर बीजेपी सरकार पर निशाना साध रही है, और पीएम मोदी की चुप्पी को लेकर सवाल भी उठा रही है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कल जारी अपने बयान में केंद्र सरकार या BJP का नाम तो नहीं लिया लेकिन देश में बिगड़ते माहौल का मुद्दा उठाकर उन्हें घेरने की कोशिश जरूर की।

सोनिया गांधी ने कहा कि "देश में पत्रकारों, स्वतंत्र विचार वाले लोगों और तर्कवादियों की लगातार हो रही हत्याओं ने ऐसा माहौल बना दिया है कि वैचारिक असहमति, मतभेद और अलग राय रखने की वजह से किसी की जान ली जा सकती है, इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता और ना किया जाना चाहिए। यह हमारे लोकतंत्र के लिए बेहद दुख की घड़ी है, यह वारदात हमें इस डरावनी सच्चाई की याद दिलाती है की हमारे समाज में असहिष्णुता और कट्टरता बढ़ती जा रही है। कांग्रेस पार्टी इस हमले की निंदा करती है और मौजूदा माहौल में तर्कवादियों, स्वतंत्र विचार रखने वालों और पत्रकारों के साथ एकजुट होकर खड़ी है।

गौरतलब हो की गौरी लंकेश अपने दक्षिणपंथ विरोधी विचारों के लिए मशहूर थी, जिसकी उनको सजा मिली, लेकिन जाते जाते वो अपने पीछे ये सवाल छोड़ गई की आखिर कब तक अलग विचारधारा रखने वालो से उनके जीने का अधिकार छीन लिया जाएगा।

You may be interested

0 shares 24 views 0

इस बार कर्नाटक विधानसभा में बोखला गई है भाजपा, निजी हमलो पर उतारू

Thursday 10 May 2018, 5:46 pm

एक के बाद एक निजी हमलो से परेशान सिद्धारमैया ने प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह पर 100 करोड़ का मानहानि का केस कर दिया है।

0 shares 114 views 0

चिकन, मटन, मछली खाने वालों में डिप्रेशन कम

Thursday 30 November 2017, 6:39 am

मेडिकल रिसर्च में दावा, शाकाहारी लोगो को डिप्रेशन का खतरा ज्यादा.

0 shares 505 views 0

गुजरात में किसी भी विपक्षी पार्टी को वोट दें, लेकिन बीजेपी को हराएं

Monday 27 November 2017, 9:53 am

देश बेहद नाजुक दौर से गुजर रहा है, जबकि हिंदू मुसलमान को आपस में लड़ाकर देश को बांटने की कोशिश की जा रही है. हिंदू मुसलमान के नाम पर भारत को बांटना ही पाकिस्तान का सबसे बड़ा मकसद और सपना है.

0 Responses

Most from this category